दुनिया की ये इमारतें है सबसे मंहगी ओर धार्मिक, किसी गरीब देश को बना दे एक की कीमत तो सबसे अमीर

 
 दुनिया की ये इमारतें है सबसे मंहगी ओर धार्मिक, किसी गरीब देश को बना दे एक की कीमत तो सबसे अमीर

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।।  दुनिया भर से लाखों लोगों को कुछ धार्मिक इमारतें इतनी प्रभावशाली हैं कि वे बेहद आकर्षित करती हैं। इतिहास का हिस्सा ये इमारतें हैं और ज्यादातर काफी सदियों से उनमें से खड़ी हुई हैं। उन धार्मिक इमारतों के बारे में आज हम आपको बताने वाले हैं, जिनको बनाने में लाखों करोड़ों का खर्चा आया है।

मस्जिद अल हरम 
सबसे महंगी धार्मिक इमारत मस्जिद अल-हरम न केवल है बल्कि सबसे कॉस्टली बिल्डिंग्स दुनिया की में आती है। 7वीं शताब्दी में इसे बनना शुरू हुआ था और इसका क्षेत्रफल 356,800 वर्ग मीटर है। 5,62,91,55,000 रुपए के साथ इस मस्जिद को बनाया गया है।

पद्मनाभस्वामी मंदिर 
सुप्रीम कोर्ट के आर्डर पर जब इस मंदिर की तिजोरी को खोला गया, तो मंदिर के पास 22 बिलियन डॉलर का खजाना निकला, पद्मनाभस्वामी मंदिर, त्रिवेंद्रम भारत में, सबसे भव्य मंदिरों में से एक है।  जो लगभग 150 से अधिक वर्षों से बंद था।

ला सगारदा फ़मिलिया
इस इमारत की लागत का अंदाजा किसी को नहीं है, लेकिन कहा जाता है कि ये इमारत बिलियन डॉलर की कीमत पर बन रही है। इस खूबसूरत इमारत का निर्माण 1883 में शुरू हुआ था और कहा जाता है कि इसका निर्माण अभी भी प्रगति पर है, जिसे 2026 में खत्म कर दिया जाएगा। 

दुनिया की ये इमारतें है सबसे मंहगी ओर धार्मिक, किसी गरीब देश को बना दे एक की कीमत तो सबसे अमीर

श्वेडेगन पगोडा 
ये परिसर 114 एकड़ का विशाल बौद्ध परिसर है। इतिहास के अनुसार शिवालय का निर्माण छठी शताब्दी में ही हुआ था। विशाल 99 मीटर ऊंचा शिवालय कई सुनहरे स्तूपों से घिरा हुआ है। इस इमारत को 3 बिलियन डॉलर की लागत से बनाया गया है।

हरमंदिर साहिब 
यह 24 कैरेट सोने की 30 परतों से ढका हुआ है और इसे भारत की सबसे मूल्यवान इमारत माना जाता है। पंजाब, भारत में स्थित, हरमंदिर साहिब उर्फ स्वर्ण मंदिर सोने से बना हुआ है। 

सेंट पीटर्स बेसिलिका 
यह दुनिया के सबसे महंगे धार्मिक इमारतों में शामिल है। इस चर्च को भी कई करोड़ों में भी बनाया गया है। सेंट पीटर बेसिलिका दुनिया का सबसे बड़ा चर्च नहीं हो सकता है।

Post a Comment

From around the web