कश्मीर में स्थित हजरतबल दरगाह में ऐसा क्या है खास? जानिए इससे जुड़े रोचक तथ्य

 
कश्मीर में स्थित हजरतबल दरगाह में ऐसा क्या है खास? जानिए इससे जुड़े रोचक तथ्य

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। हमारे देश में विभिन्न धर्मों के लोग हैं। इसलिए लोग अपनी मान्यताओं को पूरा करने के लिए मंदिरों, मस्जिदों या गुरुद्वारों में जाते हैं। लेकिन कुछ लोग दरगाह जाना भी पसंद करते हैं क्योंकि कहा जाता है कि सच्चे मन से जो भी दुआ की जाती है वो पूरी होती है। मुस्लिम धर्म को मानने वालों के लिए यह तीर्थस्थल है, लेकिन यहां आपको हर धर्म के लोग सिर झुकाते हुए नजर आएंगे।

दिल्ली में आपने कई मशहूर दरगाहें देखी होंगी, लेकिन हम आपको कश्मीर की हजरतबल दरगाह के बारे में बता दें। क्योंकि कहा जाता है कि यह मुस्लिम समुदाय की सबसे खास दरगाह है। इस दरगाह की सबसे खास बात यह है कि यहां न सिर्फ मुस्लिम समुदाय के लोग आते हैं बल्कि हर धर्म के लोग यहां आते हैं। तो आइए जानते हैं कश्मीर की सबसे मशहूर हजरतबल दरगाह के बारे में, जिसके दरवाजे सभी के लिए खुले हैं।

दरगाह का इतिहास

इस दरगाह के इतिहास के बारे में कई मिथक हैं। लेकिन कहा जाता है कि इसका इतिहास बहुत पुराना है। क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इस दरगाह में इस्लाम के आखिरी पैगंबर मोहम्मद की दाढ़ी के बाल रखे गए हैं। मोहम्मद के बालों को सैयद अब्दुल्ला ने कश्मीर लाया था, जिन्होंने बाद में इसे दरगाह में दफना दिया था। लेकिन इसका इतिहास सत्रहवीं शताब्दी का है। ऐसा इसलिए है क्योंकि 1623 में मुगल बादशाह शाहजहां के सूबेदार सादिक खान ने इस जगह पर एक बगीचा, एक घर और एक विश्राम स्थल का निर्माण कराया था।

क्यों खास है हजरतबल दरगाह?
यह दरगाह श्रीनगर शहर में स्थित है, इसे देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। क्योंकि यह दरगाह हजरत से जुड़ी हुई है। इतना ही नहीं यह दरगाह इतनी खूबसूरत है कि अगर कोई कश्मीर जाता है तो बिना सिर झुकाए इस दरगाह पर नहीं जाता है। इसलिए यहां हर धर्म के लोग मन्नत मांगने आते हैं। आपको बता दें कि हजरतबल को मदीनत-ए-सानी, असर-ए-शरीफ और दरगाह शरीफ आदि कई अन्य नामों से भी जाना जाता है।

दरगाह की वास्तुकला कैसी है?

इसकी वास्तुकला बेहद खूबसूरत है क्योंकि इसे कश्मीरी वास्तुकला और मुगल वास्तुकला की शैली में बनाया गया है। यह सफेद संगमरमर से बना है। इसमें कई दरवाजे हैं जिनसे आप अंदर जा सकते हैं। इसके साथ ही इस दरगाह के आसपास कई खूबसूरत बगीचे हैं, जिनका नजारा आपको जरूर पसंद आएगा।

जानिए रोचक तथ्य
अगर आप इस दरगाह के दर्शन करने जा रहे हैं, तो प्रवेश करने से पहले आपको अपना सिर ढंकना होगा।
यहां प्रवेश करने के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना है।
अगर आप यहां जा रहे हैं तो आपके पास एक पहचान पत्र होना चाहिए।
यहां कोई महिला नहीं जा सकती क्योंकि दरगाह के बगल में एक मस्जिद है।

Post a Comment

From around the web