क्या आप जानते है दुनिया के यह पांच सबसे खतरनाक आइलैंड के बारे में, जहां हर समय मंडराती है मौत

 
क्या आप जानते है दुनिया के यह पांच सबसे खतरनाक आइलैंड के बारे में, जहां हर समय मंडराती है मौत

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। अक्सर लोग किसी न किसी आइलैंड (द्वीप) पर प्रकृति का अद्भुत नजारा देखने के लिए या फिर छुट्टियां बिताने के लिए घूमने जाते हैं। जो किसी का मन मोह लेती है आइलैंड की खूबसूरती ऐसी होती है। लेकिन कई आइलैंड ऐसे भी हैं जो खूबसूरत होने के साथ-साथ बेहद ही खतरनाक हैं। जहां पर न जाना ही बेहतर है। दुनिया के 5 ऐसे द्वीपों के बारे में आज हम आपको बताएंगे, जहां जाने का मतलब मौत को गले लगाना है।

1. मियाकेजीमा इजू आइलैंड 
यहां पिछली एक सदी में कई ज्वालामुखी विस्फोट हो चुके हैं। जहरीली गैसों की मात्रा इस द्वीप पर  सामान्य से बहुत अधिक स्तर पर पहुंच गई है। लोग हर समय इस वजह से यहां पर मास्क पहने रहते हैं। एक भयंकर विस्फोट साल 2000 में भी हुआ था, जिसमें लावा के साथ-साथ भारी मात्रा में जहरीली गैसें निकली थीं। हालांकि, ज्वालामुखी तो बाद में शांत हो गया लेकिन जहरीली गैसों का निकलना  बंद नहीं हुआ। इसके बाद से ही इस आइलैंड पर आना लोग कतई नहीं पसंद करते हैं।

2. प्रोवेग्लिया आइलैंड 

प्रोवेग्लिया आइलैंड को लोग भूतहा आइलैंड भी मानते हैं। माना जाता है कि इस आइलैंड पर जाने वाले लोग लौटकर वापस नहीं आ पाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि सैकड़ों साल पहले इस आइलैंड पर लाखों लोगों को जिंदा जला दिया गया था। उसी समय से यह आइलैंड पूरी तरह से वीरान हो गया।  प्रोवेग्लिया आइलैंड को 'मौत का आइलैंड' कहा जाता है। 

3. सुरक्षा के लिहाज से इस आइलैंड के लगभग आधे से ज्यादा तटों पर तैराकी की मनाही है। इसके पीछे की वजह यहां शार्क मछलियां हैं। यह खतरनाक मछलियां लोगों को पल भर में मौत की नींद सुला देती हैं।  यह आइलैंड दुनिया के लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है, लेकिन यहां जाना काफी खतरनाक होता है। 

क्या आप जानते है दुनिया के यह पांच सबसे खतरनाक आइलैंड के बारे में, जहां हर समय मंडराती है मौत

4. यहां अक्सर समुद्री तूफान और भूकंप आते रहते हैं। साल 1997 के बाद से इस आइलैंड पर भूकंप के झटके काफी बढ़ गए हैं। ऐसा माना जाता है कि यहां कभी भी भयंकर ज्वालामुखी विस्फोट हो सकता है।  कैरिबियाई समुद्र के बीच में स्थित साबा आइलैंड देखने में काफी खूबसूरत है। महज 13 स्क्वायर किलोमीटर में फैले इस आइलैंड पर करीब 2000 लोग रहते हैं।

5. दरअसल, द्वितीय विश्वयुद्ध के समय ब्रिटेन ने इस आइलैंड पर एंथ्रेक्स नाम के एक जहरीले गैस का परीक्षण किया था, जिसकी वजह से यह जगह जहरीली हो गई है। स्कॉटलैंड के ग्रुइनार्ड की खाड़ी में बसे ग्रुइनार्ड आइलैंड को भी काफी खतरनाक माना जाता है।इस गैस की चपेट में अगर कोई आ जाए तो उसकी मौत लगभग निश्चित है।

Post a Comment

From around the web