भारत में मौजूद एक ऐसा गांव जहां विदेशी लोगों का आना मना है, जानिए इसकी वजह

 
भारत में मौजूद एक ऐसा गांव जहां विदेशी लोगों का आना मना है, जानिए इसकी वजह

ट्रेवल न्यूज डेस्क।। भारत की देव भूमि उत्तराखंड को कहा जाता है। इस देवभूमि की सुंदरता को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि जहां विदेशी लोगों का जाना बैन है उत्तराखंड का एक गांव? विदेशी लोगों के जाने पर उत्तराखंड के चकराता गांव में बैन है। भारतीय आर्मी की छावनी चकराता गांव है। भारतीय आर्मी की निगरानी में यह गांव 24 घंटे रहता है। यह गांव ब्रिटिश इंडियन आर्मी का पुराने समय में छावनी क्षेत्र हुआ करता था। यहां आपको हर तरफ आर्मी के लोग देखने को मिलेंगे। 

चकराता गांव की खूबसूरती

अगर आप सुबह का नाश्ता बर्फ से ढकी हिमालय की चोटियों को देख करना चाहते हैं तो चकराता जरूर घूमें। दिल्ली से करीब 330 किमी दूर यह गांव है। एक छोटा सा शहर चकराता देहरादून के पास बसा है, जो इंफैन्ट्री बेस के रूप में ब्रिटिश शासन के दौरान कार्य करता था। सबसे कम एक्सप्लोर शहर में से एक चकराता गांव उत्तराखंड में है। इसलिए आपको यहां रहने के लिए गिने चुने 2-4 होटल ही मिलेंगे। इस गांव में जौनसारी जाति के लोग रहते हैं। इस गांव को जौंसार बावर के नाम से भी जाना जाता है।  चकराता गांव विशेष रूप से शांत, सुंदर और प्रदूषण मुक्त जगह के लिए जाना जाता है। इस गांव की जनसंख्या भी बेहद कम है। 

भारत में मौजूद एक ऐसा गांव जहां विदेशी लोगों का आना मना है, जानिए इसकी वजह

चकराता गांव में घूमने की जगहें टाइगर फॉल

इस झरने को देखने के लिए आपको कच्चे और संकरे रास्तों से गुजरना पड़ेगा। यही कच्चे और संकरे रास्ते आपकी ट्रैकिंह को अधिक रोमांचक बना देंगे। टाइगर फॉल उत्तराखंड का सबसे ऊंचा झरना है। यह जमीन से लगभग 100 मीटर ऊंचा है। और जब आप यहां पहुंचेंगे तब झरने को देख आपका मन मोहित हो जाएगा। अगर आप इस झरने को देखना चाहते हैं तो आपको इसके लिए  6 किलोमीटर की ट्रैकिंग करनी होगी। हालांकि, आपको बता दें कि इस झरने तक पहुंचने के लिए कोई बस सुविधा उपलब्ध नहीं है। 

देववन
चकराता से देववन जाने के लिए आप गाड़ी से भी जा सकते हैं या कानसार से ट्रैकिंग करके पहुंच सकते हैं। देववन से आप चकराता का मनोरम दृश्य देख सकते हैं। देवदार पेड़ इस क्षेत्र की सुंदरता में चार चांद लगाते हैं। लंबे लंबे देवदार पेड़ के पेड़ और बर्फ आपकी यात्रा को और भी शानदार बना देंगे।  यही नहीं यहां आपको  बर्फ से ढके हिमालय के पर्वतों का मनोरम दृश्य भी देखने को मिलेगा। यह क्षेत्र देवदार के पेड़ो से घिरा हुआ है। 

चिरमिरी
यह क्षेत्र सूर्यास्त का मनोरम दृश्य का अनुभव कराता है। आप चिरमिरी क्षेत्र जाकर परम आनंद की विभूती कर सकते हैं। यह क्षेत्र चकराता मार्केट से लगभग 4 किलोमीटर दूर स्थि है। अगर आप सूर्यास्त देखना पंसद करते हैं तो यह क्षेत्र आपके लिए बिल्कुल सही है। 

Post a Comment

From around the web