ये है World का सबसे Unique Ice Hotel, जिसे Ice से किया जाता है Winter Lovers के लिए तैयार

 
ये है World का सबसे Unique Ice Hotel, जिसे Ice से किया जाता है Winter Lovers के लिए तैयार

ट्रेवल न्यूज डेस्क।। अधिकांश लोगों को सर्दियों का मौसम बहुत भाता है, इसलिए ऐसे डेस्टिनेशन पर जाना लोग सर्द मौसम का आनंद लेने के लिए पसंद करते हैं, जहां बर्फबारी होती है. इन दिनों उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है और इस मौसम का लुत्फ उठाने के लिए पर्यटक अपने फेवरेट डेस्टिनेशन का रुख कर रहे हैं. लोग आलिशान होटल  में किसी पर्यटन स्थल पर जाने के बाद ठहरना पसंद करते हैं. एक ऐसा देश भी है दुनिया का जहां बर्फ का अनोखा होटल बना है और यह पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है. स्वीडन में मौजूद बर्फ से बना यह अनोखा आइस होटल है और इसकी खासियत यह है कि सर्दियों में यह हर साल बनकर तैयार होता है और पिघलकर सर्दियों के बाद पानी बन जाता है और समा जाता नदी में. आइस होटल के नाम से स्वीडन के इस होटल को जाना जाता है. पांच महीने बाद हर साल सर्दियों में बनने वाला यह होटल पिघल कर नदी में मिल जाता है.

आइस होटल, स्वीडन 
साल 1989 से चली आ रही इस यूनिक होटल को बनाने की परंपरा है और इस अनोखे होटल को इस साल भी बनाया गया है, लेकिन कोविड-19 गाइडलाइन्स का भी कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर खास तौर पर पालन किया जा रहा है.

आइस होटल, स्वीडन 
बता दें कि हर साल अक्टूबर महीने में इसका निर्माण कार्य शुरु होता है और दुनिया भर के कलाकार इस होटल को बनाने के लिए आते हैं. इस अनोखे होटल को टॉर्न नदी के तट पर बनाया गया है और इसके निर्माण में करीब ढाई हजार टन बर्फ का इस्तेमाल किया गया है. 

क्या आपने सुना है दुनिया के सबसे Unique Ice Hotel के बारे में, सिर्फ सर्दियों के लिए किया जाता है बर्फ से तैयार

आइस होटल, स्वीडन 
इस खूबसूरत होटल में वो अपने फुर्सत के लम्हों को यादगार बना सकें. इस होटल के अंदर और बाहर का नजारा इतना खूबसूरत होता है कि पर्यटक यहां खींचे चले आते हैं.

आइस होटल, स्वीडन 
इस होटल में रहना किसी चुनौती से कम नहीं है, क्योंकि कमरों के भीतर का तापमान करीब माइनस 5 डिग्री सेल्सियस तक रहता है. इस होटल में आने वाले पर्यटकों के ठहरने के लिए कई कमरों का निर्माण किया जाता है.

आइस होटल, स्वीडन 
यहां हर साल करीब 50 हजार पर्यटक आते हैं और इस होटल में एक रात रुकने के लिए पर्यटकों को 17 हजार रुपए से लेकर 1 लाख रुपए तक खर्च करने पड़ते हैं.  इसके बाद यहां की बर्फ पिघलने लगती है. अक्टूबर में निर्माण कार्य शुरु होने के बाद इस होटल में पर्यटकों की आवाजाही का सिलसिला अप्रैल महीने तक चलता है.

Post a Comment

From around the web